Personalized
Horoscope

Makara Masik Rashifal in Hindi - Makara Horoscope in Hindi - मकर मासिक राशिफल

Capricorn Rashifal

स्वास्थ्य: महीने की शुरुआत में आपकी राशि में शनि और सूर्य का समावेश रहेगा। चूँकि सूर्य आपके लिए अष्टमेश भी है, लग्नेश के साथ स्थित होने पर आपको स्वास्थ्य समस्याएं दे सकता है, जिनमें मुख्य रूप से हड्डियों अथवा दाँतों से संबंधित रोग, बुखार, वायु रोग, गैस्ट्रिक, एसिडिटी और जोड़ों का दर्द शामिल है। बारहवें भाव में बृहस्पति के साथ केतु स्थित है और मंगल का गोचर भी इसी राशि में होगा, तब आपको नींद ना आने की समस्या हो सकती है अथवा नेत्र संबंधित कोई विकार जन्म ले सकता है। आपको इस बात का ध्यान रखना है कि 12वें भाव का मंगल कई बार व्यक्ति को हॉस्पिटल भी भेज सकता है। ऐसी स्थिति में पूर्ण रूप से अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें और किसी भी प्रकार की दुर्घटना से बचने के लिए वाहन सावधानी पूर्वक चलाएँ। सूर्य का गोचर दूसरे भाव में होने के उपरांत आपको काफी हद तक अच्छे परिणाम मिलेंगे क्योंकि राशि स्वामी शनि राशि में स्थित होने के कारण आपको मजबूती देगा और आपके स्वास्थ्य की रक्षा करेगा। आपको आलस्य का त्याग करना चाहिए और प्रतिदिन सुबह कम से कम 3 से 5 किलोमीटर जोगिंग अथवा तेज चाल से पैदल चलना चाहिए और भरपूर मात्रा में जल का सेवन करना चाहिए। अत्यधिक वसा युक्त भोजन न करें और तेज मसालों का प्रयोग भी कम करें। ऐसा करने से आप काफी हद तक अपने स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं के प्रति जागरूक रहेंगे और स्वास्थ्य समस्याओं को काफी हद तक कम कर सकते हैं। याद रखें स्वास्थ्य से बढ़कर जीवन में कोई धन नहीं है।

कैरियर: महीने की शुरुआत में आपके कार्यस्थल पर आपकी स्थिति यूं तो काफी बेहतर रहेगी, लेकिन सूर्य के साथ शनि की उपस्थिति आपको किसी झूठे इल्जाम में फंसा भी सकती है, लेकिन घबराने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है क्योंकि जैसे ही सूर्य का गोचर दूसरे भाव में होगा, ये झूठे इल्जाम अपने आप समाप्त हो जाएंगे और आप की सच्चाई सबके सामने आ जाएगी। आप ईमानदारी से अपना काम करना जारी रखें। इस महीने आपको अपने वरिष्ठ अधिकारियों का पूरा सहयोग मिलेगा और आप उनके कृपा पात्र बने रहेंगे, जिससे महत्वपूर्ण पदों पर आप की नियुक्ति अथवा तैनाती हो सकती है और इसके साथ ही साथ आपको कार्यक्षेत्र में सभी अच्छी सुख-सुविधाओं की प्राप्ति हो सकती है। आपके साथ काम करने वाले लोग अर्थात आपके सहकर्मी भी आपके काम में आपके साथ रहेंगे और आपको आगे बढ़ने में अपनी ओर से सहायता प्रदान करेंगे। हालाँकि इनमें से कुछ लोग ऐसे होंगे जो काफी वरिष्ठ होंगे, उन्हें आपकी कोई बात बुरी भी लग सकती है, इसलिए इस दौरान सोच समझकर ही व्यवहार और बातचीत करें। शनि की दृष्टि दशम भाव पर होने के कारण आपको अपने काम पर अधिक फोकस करना होगा और अधिक मेहनत करनी होगी, लेकिन उसका पूरा फल भी आपको प्राप्त होगा। इसलिए इस दौरान आपको नौकरी से संबंधित अच्छे परिणाम मिल सकते हैं। यदि आप व्यापार करते हैं तो, व्यापार के मामले में आपके लिए समय अच्छा रहने वाला है और आपको मुनाफ़ा मिलने की उम्मीद करनी चाहिए। यदि आपका काम धातुओं का है अथवा सौंदर्य प्रसाधनों अथवा कपड़ों का काम करते हैं तो, आपके लिए काफी बेहतरीन योग बन रहे हैं, जो आप को अच्छा लाभ दिलाने में सक्षम होंगे।

प्रेम / विवाह / व्यक्तिगत संबंध: प्यार के मामले में आप इस महीने काफी लकी रहने वाले हैं और सही मायनों में आपके लिए वैलेंटाइन डे बेहतरीन दिन के रूप में सामने आएगा। महीने के शुरुआती कुछ दिनों में मंगल की दृष्टि पंचम भाव पर रहेगी, जिससे प्रेम जीवन थोड़ा थोड़ा बोझिल सा लगेगा और उसमें नीरसता रहेगी, लेकिन जैसे ही मंगल राशि बदलेगा, आपकी प्यार की भावनाएं गति पकड़ेंगी। इसके बाद शुक्र का गोचर तीसरे भाव में होने से आपके जीवन में जैसे बहार ही आ जाएगी। आप अपने प्रियतम के साथ जीवन के अच्छे पलों को बिताएंगे और यदि आप अभी तक सिंगल हैं तो, आपके जीवन में कोई नया व्यक्ति दस्तक दे सकता है, जो बहुत जल्दी आपके दिल के करीब आ जाएगा और आपका खास बन जाएगा। इस दौरान आपको अपने दोस्तों के साथ समय बिताने का और मौज मस्ती करने का भी अवसर मिलेगा और अपने प्रियतम के संग किसी यात्रा पर जाने, लॉन्ग ड्राइव पर जाने, साथ में खाने-पीने, घूमने फिरने, फिल्म देखने और बातचीत करने का भरपूर मौका मिलेगा। कुल मिलाकर कहा जाए तो फरवरी का रोमांटिक महीना, आपके लिए काफी बेहतर संभावनाओं के साथ आने वाला है। आपको बस यह सोचना है कि इस बेहतर महीने को और बेहतर कैसे बनाया जाए। जो लोग विवाहित हैं, उनके दांपत्य जीवन पर नजर डालें तो, सप्तम भाव पर शनि और सूर्य का सम्मिलित प्रभाव अधिक अनुकूल दिखाई नहीं दे रहा है। ऐसे में दांपत्य जीवन चुनौतियों से भरा रहने की संभावना है और आपका स्वास्थ्य खराब होने के कारण भी अथवा आपके जीवन साथी को भी कुछ समस्याएं हो सकती हैं, जिसकी वजह से भी इस रिश्ते में कुछ परेशानियां खड़ी हो जाएंगी। मंगल जैसे ही 12वें भाव में जाएगा, आपके जीवनसाथी के व्यवहार में बदलाव आना शुरू हो जाएगा और वह थोड़े चिढ़चिढ़े अथवा गुस्सैल हो सकते हैं। इसका असर भी आपके दांपत्य जीवन को काफी हद तक प्रभावित करेगा। ऐसे में आपको उनके साथ नम्रता से पेश आना चाहिए और उनकी बातों को पूरे ध्यान से सुन कर उनकी परेशानियों को समझना चाहिए तथा जितना हो सके, अपनी ओर से उन्हें सहयोग करना चाहिए। यह आपका नैतिक दायित्व भी है। शुक्र का गोचर तीसरे भाव में होने के बाद, आप दोनों साथ में किसी कम दूरी की यात्रा पर जा सकते हैं, जिससे आपके रिश्ते का तनाव कुछ कम होगा और आपके बीच प्रेम की वृद्धि होगी। इस प्रकार धैर्य के साथ आप इस महीने को गुज़र जाने दें, धीरे धीरे स्थितियां अनुकूल होने लगेंगी।

सलाह: इस महीने कुछ ऐसे उपाय हम आपको बताने जा रहे हैं, जिनके करने से आपको अपनी जीवन की समस्याओं से लड़ने में काफी हद तक सफलता मिलेगी। इनमें सर्वप्रथम तो आपको महाराज दशरथ कृत नील शनि स्तोत्र का पाठ करना चाहिए और संभव हो तो शनिवार के दिन किसी मंदिर अथवा धार्मिक स्थल के रास्ते पर प्रातः काल उठकर साफ सफाई का कार्य करना चाहिए। इससे आपको शनिदेव की कृपा प्राप्त होगी। इसके अतिरिक्त आप उत्तम गुणवत्ता वाला ओपल रत्न धारण कर सकते हैं, जिसे आप को चाँदी की अंगूठी में शुक्रवार के दिन अनामिका उंगली में पहनना है। इसके अतिरिक्त आप शुक्र अथवा शनि यंत्र की स्थापना भी कर सकते हैं। प्रतिदिन आपको गाय को हरा चारा अथवा पालक खिलाना चाहिए और उसके बाद उनकी कमर पर 3 बार हाथ फेरना चाहिए। इससे आपके जीवन के अनेक समस्याएं दूर हो सकती हैं। रात में दूध का सेवन ना करें और संभव हो तो मंगलवार के दिन रक्तदान करें।

सामान्य: मकर राशि के लोग व्यावहारिकता अपने अंदर रखते हैं और किसी भी बात की तह तक जाना पसंद करते हैं। हालांकि आप कई बार आलसी हो सकते हैं, जिसकी वजह से आपके जीवन में आने वाली कई संभावनाओं को आप ऐसे ही हाथ से निकल जाने देते हैं और बाद में आपको उसके लिए पछताना पड़ता है, लेकिन जब आप किसी लक्ष्य के प्रति एकनिष्ठ हो जाते हैं तो, आप पूरी तरह से उसमें डूब जाते हैं और उस काम को खत्म करके ही दम लेते हैं। आप की यही खूबी आपको आगे बढ़ाने में मददगार होती है। शनि देव की विशेष कृपा आप पर होने के कारण आप जीवन के कई मामलों में औरों से बेहतर प्रदर्शन करते हैं और आपकी तरक्की धीरे-धीरे होने के बावजूद भी पक्के तौर पर होती है और इसलिए कई बार आप स्वयं अपने भाग्य के निर्माता बन जाते हैं, क्योंकि अपनी मेहनत के बल पर ही आप सब कुछ अर्जित करते हैं। आप वर्तमान समय में साढ़ेसाती के दूसरे चरण से गुज़र रहे हैं इसलिए स्वास्थ्य पर थोड़ा ध्यान अवश्य दें और अपने रिश्तो को संजोएं। फरवरी 2020 के दौरान आपके कई नए दोस्त बनेंगे और ये नए दोस्त आपके जीवन में धीरे धीरे महत्वपूर्ण स्थान बना लेंगे। आप इस दौरान आध्यात्मिक यात्राओं पर जा सकते हैं अथवा धर्म और राजनीति में विशेष रूचि लेंगे। धार्मिक क्रियाकलापों पर आप दिल खोलकर खर्च भी करेंगे, जिससे समाज में आपके मान सम्मान में बढ़ोतरी होगी। आपकी वाणी में मिठास रहेगी, जिससे काफी लोग आपको पसंद करेंगे और आपकी वाणी के कायल हो जाएंगे। यदि आप कोई गायक हैं तो, आपके लिए समय काफी अनुकूल रहेगा।

वित्त: फरवरी महीने की शुरुआत में ही बुध और शुक्र की युति आपके दूसरे भाव में होने से आपको आर्थिक मामलों में अच्छे परिणाम मिलेंगे और आपकी आर्थिक स्थिति बेहतर रहेगी। इसके साथ ही एकादश भाव का मंगल भी आपकी आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने में अपना पूरा योगदान देगा। कुल मिलाकर कहा जाए तो महीने की शुरुआत काफी अच्छी रहेगी और धन के मामले में आप काफी बेहतर स्थिति में रहेंगे। उसके बाद जब मंगल का गोचर बारहवें स्थान पर होगा, तब आपके खर्चों में अचानक से वृद्धि देखने को मिलेगी। ये खर्चे किसी अपने पर हो सकते हैं, चाहे उनके स्वास्थ्य को लेकर हों अथवा किसी अन्य काम पर। इसके साथ ही आप अपने स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं के निदान अथवा उनकी जांच कराने के लिए भी खर्चे कर सकते हैं। इस दौरान थोड़ा संभल कर चलें, क्योंकि खर्चे अधिक होने से आर्थिक स्थिति पर बोझ पड़ सकता है। शुक्र का गोचर तीसरे भाव में होने के उपरांत आपको अपने मित्रों और सहयोगियों से काफी लाभ मिल सकता है और उनके द्वारा आप आर्थिक स्थिति को बेहतर बना पाएंगे। कुछ ऐसी योजनाएं होंगी, जिनमें उनका सहयोग मिलेगा। इससे भी आपको धन की प्राप्ति हो सकती है। इस दौरान आपका रुका हुआ अथवा अटका हुआ धन वापस आ सकता है तथा कुछ ऐसी फ़ायदेमंद यात्राएं होंगी, जो आपको धन के मामले में बेहतर स्थिति प्रदान करेंगी। संक्षेप में कहा जाए तो, फरवरी के दौरान आप की स्थिति आर्थिक तौर पर काफी हद तक मजबूत रहेगी।

पारिवारिक: यदि पारिवारिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो भी यह महीना आपके लिए काफी अच्छा रहेगा क्योंकि दूसरे भाव में बुध और शुक्र की स्थिति जहां परिवार में कोई अच्छा शुभ मांगलिक कार्य संपन्न करवा सकती है, जिसमें आपके रिश्तेदारों का आना जाना लगा रहेगा और परिवार में उल्लास का वातावरण रहेगा। उसके साथ-साथ चतुर्थ भाव भी क्रूर ग्रहों से मुक्त होने के कारण पारिवारिक जीवन में सुख शांति बनी रहेगी और परिवार के लोग एक दूसरे का भरपूर सहयोग करेंगे। इससे आपके मन को भी शांति मिलेगी और आप अपने कार्यस्थल पर बेहतर प्रदर्शन कर पाने में सफल रहेंगे। महीने के मध्य में जब शुक्र तीसरे भाव में गोचर करेगा, आपके भाई बहनों को काफी अच्छे परिणाम मिलने शुरू होंगे और इसकी वजह से आप भी काफी प्रसन्न दिखेंगे। माता-पिता का स्वास्थ्य भी काफी हद तक बेहतर रहेगा और आपके लिए राहत की बात होगी। महीने के उत्तरार्ध में बड़े भाई बहनों को लेकर कोई समस्या सामने आ सकती है, लेकिन आपसी बातचीत से उसका हल भी निकल सकता है। हालांकि आपकी इस खुशी को किसी की नजर लग सकती है, क्योंकि किसी अन्य व्यक्ति का हस्तक्षेप परिवार में समस्या पैदा करने की कोशिश कर सकता है, इसलिए ऐसे लोगों से सावधान रहें।