Personalized
Horoscope

Vrishchika Masik Rashifal in Hindi - Vrishchika Horoscope in Hindi - वृश्चिक मासिक राशिफल

Scorpio Rashifal

स्वास्थ्य: स्वास्थ्य की दृष्टि से यह माह मिला-जुला रहेगा। महीने के शुरुआती दिन स्वास्थ्य के लिए अनुकूल हैं। आप स्वस्थ और तरोताजा महसूस करेंगे। शुरुआती दिनों में किसी प्रकार की बीमारी के योग नहीं दिखाई देते। लेकिन माह के उत्तरार्ध में ग्रह-गोचर में परिवर्तन होगा। सूर्य और मंगल आपकी कुंडली के बारहवें भाव में होंगे। दोनों ग्रहों की यह स्थिति स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म देगी। आंखों में दर्द हो सकता है। नींद की समस्या से भी परेशान रह सकते हैं। इसकी वजह से शरीर में सुस्ती रहेगी और अपने कामों को पूरे जोश के साथ नहीं कर पाएंगे। चोट लगने की भी आशंका है। हाथ-पैर में मोच आ सकती है। डॉक्टर और दवाइयों पर खर्च बढ़ सकता है। इसलिए माह के उत्तरार्ध में अपने और परिजनों के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दें। दिनचर्या सही रखें। पौष्टिक खानपान अपनाएं। सक्रियता बनाए रखने की कोशिश करें।

कैरियर: करियर के लिहाज से वृश्चिक राशि के जातकों के लिए अक्टूबर का महीना उत्तम है। खासकर माह का पूर्वार्ध तो शानदार रहेगा। जो लोग नौकरीपेशा हैं, संस्थान में उनका महत्व बढ़ सकता है। उच्च अधिकारियों का पूरा सहयोग मिलेगा। नौकरी में तरक्की की भी संभावनाएं बन रही हैं। आपकी कार्यक्षमता से प्रसन्न होकर संस्थान आपके कार्यक्षेत्र को बढ़ा सकता है। व्यवसाय से जुड़े जातकों के लिए भी माह का पूर्वार्ध काफी अच्छा साबित होगा। काम-धंधे का विस्तार हो सकता है। उसी के अनुरूप लाभ के अवसर भी मिलेंगे। कोई नया काम भी शुरू कर सकते हैं, लेकिन पूरी योजना के साथ ही नया काम शुरू करें, अन्यथा अति उत्साह में नुकसान भी हो सकता है। नए कारोबारी संबंध बनेंगे, जो भविष्य में लाभप्रद साबित हो सकते हैं। स्वरोजगार करने वालों का भी अच्छा समय है। रोजगार में बरकत होगी। हालांकि माह के उत्तरार्ध में थोड़ी समस्याएं आ सकती हैं, लेकिन चिंतित होने की जरूरत नहीं है। माह के उत्तरार्ध में काम के सिलसिले में दूरस्थ स्थानों की यात्रा हो सकती है। विदेश जाना भी हो सकता है। इन यात्राओं से लाभ होगा। कुल मिलाकर, इस माह आपका करियर बहुत अच्छा चलेगा, बस उत्तरार्ध में थोड़े धैर्य और विवेक से काम लेने की जरूरत है।

प्रेम / विवाह / व्यक्तिगत संबंध: प्रेम संबंधों की दृष्टि से यह माह वृश्चिक राशि वालों के ठीक नहीं रहेगा। खासकर माह के पहले पखवाड़े में तो प्रेम संबंधों में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है। आपके पांचवें भाव पर सूर्य देव और मंगल का प्रभाव है। दोनों ग्रह गर्म मिजाज वाले हैं, जिसकी वजह से साथी के साथ आपका मतभेद हो सकता है। रिश्ते में कटुता बहुत ज्यादा बढ़ सकती है। साथ ही, 2 अक्टूबर को बुध वक्री अवस्था में ग्यारहवें भाव में प्रवेश कर जाएंगे। यह स्थिति कटुता को और बढ़ाएगी। आपकी अपने साथी से बातचीत भी बंद हो सकती है। इस अबोलेपन की परिणति संबंध-विच्छेद के रूप में हो सकती है। अगर रिश्ते को बचाना है, तो धैर्य रखना पड़ेगा। माह के उत्तरार्ध में सूर्य और मंगल का गोचर परिवर्तन होगा और वे पांचवें भाव से बारहवें भाव में पहुंच जाएंगे। इस परिवर्तन से कुछ अनुकूलता आएगी और संबंधों में सुधार होगा। विवाहित जातकों के लिए यह माह बहुत अच्छा है। सप्तम भाव में राहु की उपस्थिति है, जो रिश्ते में मधुरता घोलेगी। जीवनसाथी से पटरी अच्छी बैठेगी। विचारों में तालमेल रहेगा, जिससे वैवाहिक जीवन का पूर्ण आनंद प्राप्त होगा। 2 अक्टूबर को शुक्र का गोचर वृश्चिक राशि में होगा और उनकी दृष्टि सातवें भाव पर रहेगी। शुक्र काम और सुख के कारक ग्रह माने जाते हैं। कुंडली में उनकी ऐसी अवस्थिति से पति-पत्नी के रिश्ते में आकर्षण बढ़ेगा। रोमांस का मौसम बनेगा। किसी मनोरम स्थान की यात्रा भी हो सकती है।

सलाह: मंगलवार के दिन छोटे बालकों को गुड़ और चना बांटना आपके लिए लाभकारी रहेगा। मंगल देव के बीज मंत्र का जाप मंगलवार से शुरू करके प्रतिदिन करें। अपने भाइयों से अच्छे संबंध रखें और उनको संभव हो तो उनकी पसंद की कोई वस्तु भेंट करें। रविवार के दिन शिवलिंग पर गेहूँ अर्पित करें। बृहस्पतिवार के दिन भूरी गाय को चने की दाल खिलाएं।

सामान्य: वृश्चिक राशि के जातकों के लिए यह कुल मिलाकर माह अच्छा रहने वाला है। प्रेम-जीवन को छोड़कर बाकी सब तरह से आप संतुष्ट रहेंगे। करियर के लिहाज से यह माह खुशनुमा रहेगा। काम-धंधा अच्छा चलेगा। नौकरीपेशा लोगों की तरक्की होने की संभावना है। पढ़ाई-लिखाई भी अच्छी रहेगी। प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता मिलने की उम्मीद है। उच्च-शिक्षा के लिए भी अच्छा समय है। विदेश में पढ़ाई का अवसर मिल सकता है। पारिवारिक जीवन सब तरह से आनंदमय रहेगा। दाम्पत्य जीवन में रस की धारा बहेगी। जीवनसाथी का पूरा साथ मिलेगा। हां, प्रेमी युगलों के लिए यह समय थोड़ा चुनौतीपूर्ण रहने वाला है। रिश्ते को बचाए रखने के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ेगी। माह की शुरुआत में सेहत अच्छी रहेगी, लेकिन उत्तरार्ध में स्वास्थ्य संबंधी खर्चे बढ़ सकते हैं।

वित्त: वृश्चिक राशि के जातकों की आर्थिक स्थिति अक्टूबर में बहुत अच्छी रहने वाली है। खासकर महीने के पूर्वार्ध में आपको हर तरफ से लाभ होगा। चाहे आप नौकरीपेशा हैं, व्यवसायी हैं या स्वरोजगार करते हैं, आपकी कुंडली में लाभ के योग हैं। आपकी कुंडली में ग्यारहवें भाव में सूर्य और मंगल की उपस्थिति है, जो ज्योतिष के अनुसार काफी लाभकारी स्थिति मानी जाती है। अगर कोई सरकारी काम करते हैं यानी ठेकेदारी करते हैं या विभिन्न विभागों को सेवाएं उपलब्ध कराते हैं, तो आपको अच्छा लाभ होने की उम्मीद है। सरकारी या निजी नौकरी करते हैं, तो आय के कुछ अतिरिक्त साधन बन सकते हैं। व्यवसाय से जुड़े हुए लोगों के लिए भी यह समय बहुत अच्छा है। व्यापार में आपको अच्छा लाभ मिलेगा। कहीं फंसा हुआ पैसा मिल सकता है। घर के बुजुर्गों से धन की प्राप्ति हो सकती है। किसी पारिवारिक संपत्ति से आय के स्रोत बन सकते हैं। महीने का उत्तरार्ध वृश्चिक राशि वालों के लिए थोड़ा कमजोर रह सकता है। खर्चों में वृद्धि हो सकती है। अचानक कोई खर्च सिर पर आ सकता है। अगर निवेश करने की सोच रहे हैं, तो समय ठीक है। लेकिन निवेश करना हो, तो लंबे समय के लिए करें। उसी में लाभ मिलेगा, अल्पकालीन निवेश से कोई फायदा नहीं होगा। महीने के उत्तरार्ध में सोच-समझकर खर्च करें।

पारिवारिक: इस माह वृश्चिक राशि के जातकों की कुंडली में ग्रह-गोचर की जो स्थिति है, उसके हिसाब से यह समय पारिवारिक जीवन के लिए बहुत अच्छा है। परिवार के लोगों के बीच सौहाद्र्र रहेगा। आपसी तालमेल बहुत बढ़िया रहेगा, जिससे पारिवारिक माहौल बहुत खुशनुमा रहेगा। संतान की ओर से कुछ सुखद समाचार प्राप्त हो सकते हैं। घर-परिवार में कोई आयोजन हो सकता है, जो आपके आनंद में वृद्धि करेगा। आपकी कुंडली में तीसरे भाव में न्यायप्रिय ग्रह शनि और देवगुरु वृहस्पति एक साथ बैठे हैं। दोनों ग्रहों का यह योग आपके भाई-बहनों के लिए अच्छा है। इस योग की वजह से उनके साथ आपके संबंधों में सुधार होगा। संबंध पहले से बेहतर होंगे। आपको भाई-बहनों का पूरा सहयोग मिलेगा। ग्रहों की अच्छी स्थिति के कारण आपके माता-पिता के स्वास्थ्य के लिए माह का पूर्वार्ध काफी बढ़िया रहेगा। वे स्वस्थ रहेंगे और अगर उनको पहले से कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्या है, तो उसमें सुधार होगा। हां, माह का उत्तरार्ध माता-पिता के लिए थोड़ा मध्यम रह सकता है। उनको स्वास्थ्य संबंधी कुछ दिक्कतें हो सकती हैं। उनका अच्छे-से ध्यान रखें।