Personalized
Horoscope

Meena Masik Rashifal in Hindi - Meena Horoscope in Hindi - मीन मासिक राशिफल

Pisces Rashifal

स्वास्थ्य: इस माह में पेट से संबंधित किसी भी तरह का विकार उत्पन्न हो सकता है। साथ ही आपको हृदय से संबंधित भी समस्याएं देखने को मिल सकती हैं। गैस बदहजमी इत्यादि की समस्याएं भी बीच-बीच में परेशान करती रहेंगी। ऐसे में अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।

प्रेम / विवाह / व्यक्तिगत संबंध: इस माह में प्रेम संबंध को लेकर स्थितियाँ अनुकूल रहने वाली हैं। आपके अपने प्रेमी/प्रेमिका के साथ आपसी सामंजस्य बेहतर हो सकते हैं, जिससे आप दोनों के प्रेम संबंधों में वृद्धि देखने को मिलेगी। यदि आप किसी से प्रेम करते हैं तो उसके लिए समय निकालना जरूरी है। जिससे आप दोनों का प्रेम संबंधों में वृद्धि देखी जा सके। यदि आप किसी से बहुत ज्यादा प्यार करते हैं तो इस माह में उसका इज़हार भी कर सकते हैं तथा समय के अनुसार अपने जीवनसाथी के तौर पर देखने के लिए विचार विमर्श करते हुए अपनी बातों को शेयर कर सकते हैं। क्योंकि यह आपके प्रेम संबंधों को लेकर बेहतर स्थिति उत्पन्न कर रहा है। ऐसे में आपको समय को देखते हुए अपनी स्थिति को स्पष्ट कर देना चाहिए। जिससे एक दूसरे के प्रति प्रेम भावनाएं बेहतर स्थिति में हो सके। इस माह में दांपत्य जीवन को लेकर स्थितियाँ अनुकूल रहने वाली हैं। जीवनसाथी के साथ मधुर संबंध होने के साथ-साथ कामकाज के क्षेत्रों में भी सहयोग देखा जा सकता है। ससुराल पक्ष से भी संबंध बेहतर हो सकते हैं। जरूरत पड़ने पर ससुराल पक्ष से सहयोग भी प्राप्त हो सकता है। इसलिए जीवनसाथी के साथ मधुर संबंध होना आपके लिए काफी अच्छा हो सकता है। अनावश्यक किसी तरह के विवादों में पड़ने से बचने का प्रयास करते हुए अपनी पारिवारिक स्थितियों को बेहतर बनाएँ।

सलाह: गुरुवार का व्रत एवं पूजन करें तथा गुरुवार के दिन पीली चीजों का दान करें। एक पीले कपड़े में कुछ पीली चीजे बांधकर किसी गरीब ब्राह्मण को दान करें। जिससे आपकी परेशानियां कम होगी। आप गाय को गुड़ और चने की दाल खिला सकते हैं। जिससे आपको अच्छा लाभ प्राप्त हो सकता है।

सामान्य: इस माह में आपके मन के विचलित ज्यादा रहने से आपकी परेशानियां बढ़ सकती हैं। आप किसी भी ठोस निर्णय लेने में विलंब करेंगे जिसके कारण आपकी परेशानियां बढ़ने की उम्मीद हैं। आपको अपने आप पर भरोसा कम होता है तथा दूसरे के बातों पर भरोसा ज्यादा होता है। इसलिए आपका काम ज्यादा खराब हो सकता है। ऐसे में स्वयं से निर्णय लेने का प्रयत्न करें तथा किसी भी कार्य को ज़िम्मेदारी पूर्वक करें। जिम्मेदारियों से भागने का प्रयास न करें साहस और उत्साह से किए गए कार्यों से अच्छा लाभ प्राप्त होने का अवसर बन रहा है। यदि आप इस माह में किसी भी कार्य को ज़िम्मेदारी पूर्वक करते हैं तो आपको अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। क्योंकि गुरु वृश्चिक राशि में संचार कर रहा है। ऐसी स्थिति में इस समय भाग्य भी आपका अच्छा साथ देगा और आपको अपने कामकाज के क्षेत्र में अच्छी सफलता प्राप्त होगी। अनावश्यक तनाव के कारण कार्य क्षेत्र प्रभावित हो सकता है। इसलिए मन को एकाग्रचित कर किसी भी कार्य को करने का प्रयत्न करें। बाहर की यात्रा तथा दांपत्य जीवन को लेकर स्थितियाँ अनुकूल रहने वाली हैं। यदि आप बाहर की यात्रा करना चाहते हैं तो आपको सफलता प्राप्त हो सकती है। यदि आप ये यात्रा व्यावसायिक दृष्टि से करना चाहते हैं तो भी सफल हो सकते हैं। जीवनसाथी के साथ मधुर संबंध होने से बेहतर स्थिति हो सकती है। शत्रुओं पर हावी रहने वाले होंगे किसी भी कार्य को अपने तरीके से करने में सफल हो सकते हैं। परंतु अनावश्यक किसी तरह के विवाद में न पड़ें। संतान पक्ष को लेकर स्थितियाँ अनुकूल रहेंगे। यदि आप पढ़ाई लिखाई से संबंधित कोई कोर्स कर रहे हैं तो उसमें आपको अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। कैरियर के दृष्टि से बेहतर लाभ प्राप्त हो सकता है। यदि आप नौकरी करते हैं तो पद पोजीशन प्राप्त होने की संभावना अच्छी है। वहीं यदि आप राजनीतिज्ञ हैं तो राजनीतिक लाभ प्राप्ति के लिए बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। जिससे आपकी मानसिक परेशानियां बढ़ सकती हैं। अपनेजनों से भी विरोध का सामना करना पड़ सकता है। माता-पिता से संबंध बेहतर हो सकते हैं परंतु माता-पिता के स्वास्थ्य को लेकर चिंताएं उत्पन्न हो सकती हैं तथा घर परिवार में अनावश्यक विवाद उत्पन्न हो सकता है। स्थिति को देखते हुए किसी भी कार्य को करना आपके लिए बेहतर होगा। धन अचल संपत्ति प्राप्ति का योग अच्छा बन रहा है परंतु प्रॉपर्टी से संबंधित किसी तरह के विवादों से दूर रहने का प्रयत्न करें। अन्यथा परेशानियां ज्यादा हो सकती हैं। स्वयं से निर्णय लिए गए किसी भी कार्य को करने का प्रयत्न करें। अपने आप पर भरोसा रखते हुए अपने घर परिवार के सभी सदस्यों को साथ लेकर चलने का प्रयास करें। जिससे हर तरह की समस्याएं दूर हो सके और अच्छा लाभ प्राप्त कर सकें। इस माह में 3, 4, 12, 13, 21 तथा 22 तारीख़ आपके लिए प्रतिकूल हैं। क्योंकि इस समय में आपकी मानसिक परेशानियां काफी हद तक बढ़ सकती हैं। इसलिए इन दिनों में आपके लिए किसी भी महत्वपूर्ण कार्यों को करना वर्जित रहेगा।

वित्त: इस माह में अर्थ लाभ प्राप्ति के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे परंतु कामकाज को लेकर यात्रा ज्यादा करनी पड़ सकती हैं। जिससे आपको परेशानियां भी हो सकती हैं परंतु इससे आपके आर्थिक लाभ प्राप्ति का उद्देश्य पूरा होगा। अपने कामकाज के क्षेत्रों से अच्छा लाभ प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप कोई नया कार्य करना चाहते हैं तो इस माह में करने का प्रयत्न न करें जो कुछ कार्य आपके पास है उसे ही चलाने का प्रयत्न करें। जिससे आपको अच्छा लाभ प्राप्त हो सके। घर परिवार के सभी सदस्यों के साथ आपसी सामंजस्य बेहतर होने से आपके कामकाज के क्षेत्रों में भी सहयोग प्राप्त होने की संभावना बनेगी। जिससे आपको आर्थिक लाभ प्राप्त होने के रास्ते खुलेंगे। यदि आप नौकरी करते हैं तो साइड व्यवसाय करने का प्रयत्न कर सकते हैं। क्योंकि इस माह में स्थितियाँ अनुकूल हैं जो आपको आर्थिक लाभ के दृष्टि से बेहतर हो सकती हैं। धन के आदान-प्रदान पर अंकुश लगाने की कोशिश करें। अनावश्यक किसी से धन का आदान प्रदान ना करें। अपने आप पर भरोसा करते हुए किसी भी कार्य को करने का प्रयत्न करें। जिससे आपको आर्थिक लाभ प्राप्त हो सके। प्रॉपर्टी से संबंधित धन का निवेश न करें क्योंकि अनावश्यक विवाद उत्पन्न होने की संभावना बन सकती हैं। जिससे आपको आर्थिक नुकसान उठाना पड़ सकता है।

पारिवारिक दोस्त: इस माह में पारिवारिक समस्याएं बढ़ने की संभावना बन रही हैं। अनावश्यक किसी तरह का विवाद उत्पन्न होने से घर का संतुलन बिगड़ सकता है। आपसी मतभेद के कारण एक दूसरे से कहासुनी हो सकती है, जिससे घर परिवार में स्थितियाँ प्रतिकूल हो जाएंगी। घर परिवार के सभी सदस्यों के साथ आपसी सामंजस्य बनाए रखने का प्रयत्न करें। जिससे आपके कामकाज के क्षेत्र पर कोई बुरा असर न पड़े। क्योंकि राहु मिथुन राशि में संचार कर रहा है जो पारिवारिक तनाव उत्पन्न कर सकता है तथा भूमि वाहन इत्यादि की सुविधा प्राप्ति में बाधाएं उत्पन्न कर सकता है। माता-पिता से संबंध खराब हो सकते हैं तथा माता-पिता के स्वास्थ्य को लेकर चिंताएं बढ़ सकती हैं। इसका भी एक घर परिवार में तनाव उत्पन्न होने का कारण हो सकता है। भाई बहन इत्यादि सबके साथ मधुर संबंध जितना ज्यादा से ज्यादा एक दूसरे के प्रति सहानुभूति रखते हुए परस्पर संबंध बनाए रखने का प्रयास करें। जिससे हर तरह की समस्याओं से निपटने का प्रयास किया जा सके। संतान पक्ष से संतुष्टि प्राप्त हो सकती है तथा संतान से सहयोग भी प्राप्त हो सकता है। अतः सोची समझी रणनीति के तहत कार्य करना आपके लिए बेहतर हो सकता है।