Personalized
Horoscope

Mithun Saptahik Rashifal - Gemini Weekly Horoscope in Hindi - मिथुन साप्ताहिक राशिफल

Gemini Rashifal

6/8/2020 - 6/14/2020

इस सप्ताह चन्द्रमा आपके चतुर्थ भाव में होंगे और फिर पंचम, षष्टम और सप्तम भाव में गोचर करेंगे। सप्ताह की शुरुआत में चंद्र, आपके चतुर्थ भाव को प्रभावित करेगा, जिससे आपके समस्त सुखों के बारे में पता चलता है। साथ ही आपके मातृ सुख, सुख, उनकी स्थिति, वाहन सुख, अचल संपत्ति और पारिवारिक जीवन के बारे में भी, इसी भाव से पता चलता है। ऐसे में चंद्र की ये स्थिति आपकी मां के लिए बेहद उत्तम रहेगी। आपको उनके सहयोग से लाभ प्राप्त होगा। साथ ही उनके साथ, आपके संबंधों में मिठास देखी जाएगी। हालांकि कार्यक्षेत्र पर आपको थोड़ी बाधा महसूस हो सकती है। इसके लिए जोखिम लेने की वजह, आप अपनी नौकरी और व्यवसाय में खुद को सुरक्षित करते दिखाई देंगे, जिसके चलते आपको, जीवन में सफलता प्राप्त होने में मुश्किल महसूस हो सकती है। इसलिए आपको सलाह दी जाती है कि, अपने सुविधा क्षेत्र से बाहर आकर जोखिम उठाए, तभी आपको कार्यक्षेत्र में उन्नति और सफलता की प्राप्ति होगी। इसके बाद, सप्ताह में मध्य में चन्द्रमा आपके पंचम और षष्ठम भाव में गोचर करेगा। जहाँ पंचाम भाव से आपके पूर्व जन्म, प्रेम सम्बन्ध, आपकी बुद्धि, आपकी संतान, आपके रुझान, कलात्मकता का पता चलता है। तो वहीं, षष्ठम भाव बीमारी, विरोधी, वाद विवाद, कोर्ट-कचहरी, कर्जा, बैंक लोन, संघर्ष, प्रतियोगिता, प्रतियोगी परीक्षाएं, चुनाव, को दर्शाता है। दांपत्य जातकों को अपने परिवार में विस्तार करने के अवसर प्राप्त होंगे। इस दौरान आपको अपने परिवार और अपने जीवनसाथी का भी भरपूर सहयोग मिलेगा। यदि आप ज़मीन या शेयर बाजार से जुड़ा कोई बड़ा निवेश, करने का सोच रहे हैं तो, उसके लिए भी समय बेहद अच्छा रहने वाला है, क्योंकि इससे आपको भविष्य में अच्छा लाभ मिलता दिखाई दे रहा है। हालांकि सप्ताह के मध्य में आपको थोड़ी परेशानी भी आने की आशंका रहेगी, क्योंकि इस समय जल्दबाजी में किया गया हर कार्य, आपको हानि पहुँचाएगा। इसलिए बेहद सोच-समझकर, सही नुकसान और मुनाफ़ा देखते हुए ही, कोई भी निर्णय ले। कार्यक्षेत्र पर आशंका है कि, आपके विरोधी आपके काम में बाधा उत्पन्न करते दिखाई देंगे, इसलिए आपको उनसे सावधान रहने की जरूरत होगी। आर्थिक जीवन में इस समय किसी भी तरह के लेन-देन से बचें, अन्यथा आपका पैसा फँस सकता है। इसके साथ ही, सप्ताह के अंत में चन्द्रमा आपकी राशि के सप्तम भाव में विराजमान हो जाएंगे, जिससे आपको कुछ परेशानी संभव है। क्योंकि सप्तम भाव विवाह, वैवाहिक जीवन, इंपोर्ट-एक्सपोर्ट, व्यावसायिक साझेदारी, लंबे चलने वाले रिश्ते के बारे में बताता है। इसलिए आपकी राशि के सप्तम भाव में चंद्रमा, इस समय छाया ग्रह राहु के साथ युति कर रहे हैं, जिससे आपके पूर्व की कुछ अनसुलझी परिस्थितियाँ, इस दौरान पुनः जीवित हो सकती हैं। आपका स्वभाव भी कुछ उखड़ा-उखड़ा रहेगा, और उसमें क्रोध की वृद्धि होगी। जिसके कारण, आप दूसरों से संवाद करते हुए, किसी तरह के विवाद में खुद को फँसा सकते हैं। इससे आपके और साझेदार के संबंधों में भी अनबन दिखाई देगी। ऐसे में अपनी भावनाओं को साथी के साथ, सही तरीके से व्यक्त करते हुए, अपने रिश्ते को मजबूत बनाने के प्रयास करते रहें। उपाय: भगवान गणेश की उपासना के लिए नियमित रूप से “संकटनाशन गणेश स्तोत्र” का पाठ करें।