Personalized
Horoscope

Simha Saptahik Rashifal - Leo Weekly Horoscope in Hindi - सिंह साप्ताहिक राशिफल

Leo Rashifal

6/8/2020 - 6/14/2020

इस सप्ताह चन्द्रमा आपके द्वितीय भाव में होंगे और फिर तृतीय, चतुर्थ और पंचम भाव में गोचर करेंगे। शुरुआत में चन्द्रमा का गोचर दूसरे भाव में होगा, जो आपके कुटुंब का भाव है। इससे आपके धन संचय, आपकी वाणी और बोलने का तरीका, उत्तम खान पान आदि के बारे में पता चलता है। ऐसे में आपको इस समय शुभ फलों की प्राप्ति होगी। खासतौर से आपको विदेशी संपर्कों से अच्छा खासा लाभ मिलने की संभावना बनेगी। आपको इस दौरान अपने ख़र्चों और अपनी आमदनी में सही तालमेल बैठाने की आवश्यकता होगी। इसके बाद चंद्र, आपके तीसरे भाव में विराजमान होंगे, जो आपके प्रयासों का भाव होता है। इससे आपके छोटे भाई-बहन, छोटी दूरी की यात्राएं, साहस और पराक्रम, मार्केटिंग आदि के बारे में जाना जा सकता है। इसके साथ ही आपकी राशि के स्वामी शुक्र भी आपके दसवें भाव में विराजमान होंगे, जो कि कार्यक्षेत्र और करियर को दर्शाता है। ऐसे में इस दौरान आपको कार्यस्थल पर अपनी मेहनत के चलते वरिष्ठ अधिकारियों की सराहना भी मिलने की संभावना बनेगी, जिससे आप भविष्य में उन्नति और तरक्की कर सकेंगे। व्यापारी जातक अपनी रणनीति से मुनाफ़ा अर्जित करने में सफल होंगे। चूँकि चंद्रमा आपके पूर्व जन्म का प्रतिनिधित्व करता है, इसलिए इस अवधि में आप अपनी किसी गहरी इच्छा की पूर्ति के लिए हर संभव प्रयास करेंगे। यह इच्छा यात्रा, संगीत, नृत्य, आदि से जुड़ी हो सकती है। इसके साथ ही इस समय आपकी रचनात्मकता और सकारात्मकता आपके लिए सबसे ज्यादा सहयोगी साबित होने वाले हैं। क्योंकि इनकी मदद से आपको अपने जीवन के सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ने में मदद मिलेगी। फिर सप्ताह में मध्य में चन्द्रमा, आपकी राशि के चतुर्थ भाव में विराजमान होंगे। इस भाव से आपके समस्त सुखों के बारे में पता चलता है। साथ ही आपकी माता का सुख, उनकी स्थिति, वाहन सुख, अचल संपत्ति और पारिवारिक जीवन के बारे में इसी भाव से ज्ञात किया जाता है। ऐसे में इस समय आपकी मां की सेहत में गिरावट दर्ज की जाएगी, जिससे आपके मानसिक तनाव में वृद्धि होगी। इस दौरान घर का वातावरण भी नकारात्मक रहेगा। अनिद्रा की समस्या भी इस समय परेशान करेगी, जिसका नकारात्मक प्रभाव आपके स्वास्थ्य जीवन पर साफ दिखाई देगा। इस अवधि में चंद्रमा ‘नीच भंग राजयोग’ का निर्माण कर हैं, जिसके परिणामस्वरूप जब आप यह सोच रहे होंगे कि आप बेहद कमजोर स्थिति में है तो, आपको किसी व्यक्ति से अप्रत्याशित समर्थन मिलने की संभावना अधिक बनेगी। ये व्यक्ति आपको उस स्थिति से निकाल पाने में सक्षम होगा। फिर सप्ताह के अंत में, चंद्र आपकी राशि के पंचम भाव में गोचर करेंगे। इस भाव से आपके पूर्व जन्म, प्रेम सम्बन्ध, आपकी बुद्धि, आपकी संतान, आपके रुझान, कलात्मकता का पता चलता है। इस कारण इस दौरान आपकी मेहनत और लगन को कार्यक्षेत्र पर सराहना मिलेगी। जिसके चलते आपको वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा उन्नति और प्रगति मिलने की भी संभावना है। उच्च शिक्षा ग्रहण कर रहे छात्रों को भी, अच्छे फल प्राप्त होंगे। वहीं, दांपत्य जातकों को, संतान पक्ष की गिरती सेहत के चलते इस समय तनाव मिलता रहेगा। उपाय: सूर्योदय के समय, “आदित्य ह्रदय स्तोत्र” का पाठ नियमित करें।